मातृ दिवस

MOTHER’S DAY ARTICLE IN HINDI

Written by HindiMeStatus

नमस्कार दोस्तो आपका स्वागत है आपकी अपनी वैबसाइट http://www.hindimestatus.comपर। आज हम लाये हैं BEST MOTHER’S DAY ARTICLE IN HINDI जिसे आप MOTHER’S DAY वाले दिन अपनी माँ को dedicate कर सकते हैं॥

माँ भगवान का वो रूप होती है , जो 9 महीने हम को अपनी कोख में रखती है ,अपने खून से हम को सींचती है और हमे इस खूबसूरत दुनिया में लाती है |

इस मतलबी दुनिया में एक माँ ही तो होती है जिसका प्यार निस्वार्थ होता है , जो बिना किसी शर्त के बिना किसी सोदे के अपनी पूरी ज़िंदगी अपने बच्चो के नाम कर देती है | सच में दुनिया का हर वो शख्स खुशनसीब है जिसकी किस्मत में माँ का प्यार होता है |

 

माँ चाहे अनपढ़ हो या पढ़ी लिखी पर हमारी ज़िंदगी की पहली टीचर माँ ही होती है। हमारी पहली दोस्त माँ ही होती है।
माँ के प्यार को ,उसके त्याग को कुछ शब्दो में ब्यान कर देना नामुमकिन है। हम सभी जानते हैं की एक माँ ही एकलोती शख्स होती है जो हम को अपनी ज़िंदगी से भी ज़्यादा चाहती है ।

पर बड़े अफसोस की बात है जो माँ अपनी सारी ज़िंदगी हमारे नाम कर देती है उस माँ के त्याग की याद हमे सिर्फ mother’s day वाले दिन ही आती है ॥

पता नहीं क्यूँ बचपन में जिस माँ के हम सबसे ज़्यादा करीब होते हैं बड़े होते ही क्यूँ उस माँ के प्यार का रंग हमे फीका लगने लगता है।
जिस माँ ने हमे बोलना सिखाया बड़े होते ही क्यूँ जब वो ही माँ हमे सलाह देती है तो हम खुद को समझदार समझकर उसको ही चुप रहना सीखा देते हैं।

अपने कैरियर , फ़ैमिली,बिज़नस में हम इतने व्यस्त हो जाते हैं की हम भूल ही जाते हैं की किसी ने अपनी सारी खुशियाँ दाव पर लगा कर हमारे भविष्य को बनाया है ,किसी ने अपनी नींदे उड़ाकर हमारी आंखो में सपने सजाये हैं और हम को इस लायक बनाया की हम इस दुनिया में अपना अस्तित्व बना सके ॥

कितनी आसानी से हम अपनी माँ के प्यार को दुलार को उसकी दुआ को सब को भूल जाते हैं , हम भूल जाते हैं की हमारी माँ के लिए भी हमारे कुछ फर्ज़ हैं ,उसे भी हमारे प्यार की हमारे दुलार की ज़रूरत है ॥

माना की हमारे समाज में माँ को भगवान का दर्जा दिया जाता है ,पर हम ये क्यूँ भूल जाते हैं की आखिर वो है तो एक इंसान ही , उसे भी दुख होता है जब वो बुढ़ापे में अपनी औलाद का बदला हुआ रूप देखती है॥

उसकी भी ममता रोती है जब वो देखती की जिस औलाद को उसने चलना सिखाया वही बुढ़ापे में उसका सहारा बनने के बजाए उसको बोझ समझने लगते हैं॥

धिक्कार है ऐसे लोगो पर जिनको माँ तो मिलती है पर वो जीवन भर उसके प्यार के उसके दुलार के मोल को नहीं जान पाते ॥
माँ तो वो देवी होती है जिसकी हर धड़कन तुम्हारी सलामती की दुआ मांगती है,जिसकी आंखो में सिर्फ तुम्हारी कामयाबी का सपना सजता है॥

उस माँ के प्यार के मोल को कभी भूलना मत क्यूंकी ज़िंदगी में तुम्हें मान सम्मान दौलत रिश्ते सब मिल जाएंगे पर माँ जैसा प्यार तुम्हें इस्स दुनिया में तो क्या जन्नत में भी नहीं मिल पाएगा ॥

तो चलिये इस mother’s day पर हम एक कविता द्वारा आपको रूबरू कराते हैं आपकी ओर माँ की कुछ भूली बिसरी यादों से…

याद है आप बचपन में सबसे ज़्यादा वक़्त किसके साथ बिताया करते थे ,
पर आज आपके busy schedule में अपनी माँ के लिए थोड़ा सा भी वक़्त नहीं॥
याद है किसी के ज़रा से दूर हो जाने पर आपको बेचैनी होने लगती थी ,
और आज अपनी प्राइवसी के लिए अपनी माँ से ही स्पेस चाहते हैं॥
याद है सोने से पहले और उठने के बाद आपको किसका चेहरा देखना होता था ,
और आज आप nightouts और newsfeed में उलझ कर रह गए हैं॥
याद है आप चोट लगने पर ज़ोर ज़ोर से चीख कर किसको पुकारा करते थे ‘
और आज आप दिल टूटने पर भी बंद कमरे में सिसकियाँ भरते हैं॥
याद है आपकी हर प्रोब्लेम का solution किसके पास हुआ करता था,
और आज आपके और माँ के बीच so called generation gap आ गया है॥
याद है बचपन में कौन आपके सबसे करीब था,
और आज आप दोस्तो की भीड़ में माँ को ही भूल गए॥
याद है पहले माँ ही आपकी दुनिया हुआ करती थी ,
और आज आप दुनिया के मेले में भी अकेलापन महसूस करते हैं॥
याद है कोई लोरी सुनाया करता था और आपको नींद आ जाया करती थी,
और आज आपका insomania रात क 3 बजे भी आपको जगाए रखता है॥
कोई है जो selfies लिए बिना आपकी हर हरकत को अपनी यादों के कैमरा में कैद किए हुए है,
क्या आपके पास उसकी एक भी मुसकुराती हुई तस्वीर है ॥
क्या आपको याद है आपकी पहली दोस्त आपकी माँ ही थी,
और आज आप उस दोस्त से दिल की उलझाने share करने में क्यूँ कतराते हैं॥
जिसने आपके हर exam को अपने exam की तरह जिया ,
और आज ज़िंदगी के इम्तिहान में उसकी मदद लेने से क्यूँ पीछे हट ते हैं ॥

माँ ही है जो मार मार कर खाना खिलाने का हुनर जानती है॥
माँ ही है जो अपनी दुनिया भुला कर तुम्हें अपनी दुनिया बनाती है॥
वो माँ ही है जिसकी आंखो में तुम्हारी खुशियों का सपना सजता है॥
वो माँ ही है जिसके हर लब्ज में तुम्हारी सलामती की दुआ होती है॥

हो सकता है यह सिर्फ आपके लिए बचपन की बातें हो गयी हो ,पर माँ तो आज भी माँ है ओर आप उसके लिए वही छोटे से बच्चे हो…जब आप घुटनो पर चलते थे ओर गिर जाया करते थे तब माँ भागकर आती थी और आपका साया बनकर आपकी रक्षा करती थी ॥ बुढ़ापे में कहीं माँ को बोझ ना समझ लेना ॥ माँ ही आपका पहला सच्चा प्यार है , जब उसे आपकी ज़रूरत हो उसके बुढ़ापे में उसके प्यार को,उसके दुलार को, उससके त्याग को भुल मत जाना ॥

क्यूंकी माँ जैसे कोई दूसरा नहीं ॥और उसके जैसा प्यार ना ही आप से कोई करता है ना ही कोई कर पाएगा॥

आशा करते हैं की आपको mother’s day के लिए ये लेख ज़रूर पसंद आएगा॥और अगर आपको सच म पसंद आया तो कमेंट करना ओर शेयर करना बिलकुल ना भूल ॥

आपको mother’s day की  हार्दिक शुभकामनाए।

About the author

HindiMeStatus

Leave a Comment